कर्नाटक विधानसभा के सामने से आज एक परिवार ने सामुहिक आत्मदाह करने का प्रयास किया, मामला 50 लाख का लोन

The Bombay Tribune Hindi

Share This Story

Share This Story

बेंगलुरु: कर्नाटक विधानसभा के सामने से आज एक परिवार ने सामुहिक आत्मदाह करने का प्रयास किया। विधानसभा के सामने 8 लोगों ने सामूहिक आत्महत्या की कोशिश की। हालांकि कर्नाटक पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए इन लोगों को पहले की रोक लिया और हिरासत में ले लिया। ये सभी लोग एक ही परिवार के सदस्य बताये जाते हैं।

जानकारी के मुताबिक एक मुस्लिम दंपति यहां पूरे परिवार के साथ विधान सभा के सामने पहुंची। इन लोगों ने पहले एक बैंक पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया। वाले एक मुस्लिम दंपति के आत्मदाह की कोशिश की, जिसे पुलिस ने विफल कर दिया।
विधानसभा के बाहर उस समय हड़कंप मच गया जह महिलाओं और बच्चों समेत परिवार के सभी आठ लोगों ने खुद पर मिट्टी का तेल छिड़का और आग लगाने ही वाले थे, पुलिस ने उन्हें रोक दिया। सभी को तत्काल हिरासत में ले लिया गया है। पुलिस के अनुसार, उन लोगों ने यह हताशापूर्ण कदम उठाया क्योंकि वे बैंक द्वारा बकाया ऋण की वसूली के चलते अपने घर की नीलामी से परेशान थे।

इस परिवार और दंपति की पहचान जे.जे. नगर निवासी 48 वर्षीय शाहिस्ता बानो और उसके पति मोहम्मद मुनेयद उल्ला और उनके परिवार के रूप में हुई है। इस सनसनीखेज घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है ।   परिवार के एक सदस्य ने कहा कि उन्होंने अदरक की खेती का व्यवसाय शुरू करने के लिए 2016 में बैंगलोर सिटी कोऑपरेटिव बैंक से 50 लाख रुपये का ऋण लिया था। हालांकि, उनके बिजनेस को काफी घाटा हुआ, जिससे उन्हें उधार ली गई राशि चुकाने के लिए काफी दिक्कत हो रही थी।

मिली जानकारी के अनुसार, बैंक अधिकारियों ने परिवार के 3 करोड़ रुपये की कीमत वाले आवास की नीलामी महज 1.41 करोड़ रुपये में शुरू की।  भारी हंगामे के बाद पुलिस ने दंपति के खिलाफ आईपीसी की धारा 309 के तहत आत्महत्या के प्रयास और धारा 290 के तहत सार्वजनिक उपद्रव पैदा करने का मामला दर्ज किया। पुलिस ने दंपति से शपथ पत्र लिया और उन्हें हिरासत मे लेने के बाद रिहा कर दिया।

Join Channels

Share This Story

The Bombay Tribune Hindi

फॉलो करें हमारे सोशल मीडिया

Recent Post

वोट करें

What does "money" mean to you?
  • Add your answer