किसानों ने दिल्ली में बुलाई महापंचायत: शुक्रवार को देश भर में ब्लैक फ्राइडे मनाने का ऐलान, गृहमंत्री पर मर्डर केस दर्ज करने की रखी मांग

Share This Story

Share This Story

farmers Mahapanchayt Delhi: न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) सहित अन्य मांगों व खनौरी बॉर्डर पर प्रदर्शनकारी की मौत से किसान आक्रोशित हैं। पंजब-हरियाणा में गुरुवार को भी कई जगह आंदोलन होते रहे। संयुक्त किसान मोर्चा ने देर शाम बैठक कर मृत किसान को श्रद्धांजलि दी। साथ ही हरियाणा के गृहमंत्री के खिलाफ FIR की मांग करते हुए कई सख्त निर्णय लिए हैं।

संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में हुए यह निर्णय 

  • संयुक्त किसान मोर्चा ने 6 सदस्यीय समन्वय कमेटी गठित किया है। जिसमें हनान मौला, जोगिंदर सिंह उगराहां, उदयवीर, रमिंदर पटियाला, बलबीर सिंह राजेवाल और दर्शन पाल शामिल होंगे।
  • खनौरी बॉर्डर पर किसान की मौत के मामले में हत्या का केस दर्ज कर न्यायिक जांच की कराए जाने की मांग की। साथ ही गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग की।
  • मृतक किसान के परिवार को एक करोड़ का मुआवजा दिए जाने और उसका कर्ज माफ करने की मांग की है।
  • किसान नेता डॉ सुनील का ने कमेटी SKM के पुराने सदस्यों से कर एकता बनाए रखने का प्रयास करेगी। सरकार से भी मांग की है कि है किसानों आंदोलन को अलग करने की कोशिशें बंद होनी चाहिए।
  • मुस्तफाबाद स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन हरियाणा के किसानों ने मुस्तफाबाद स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक पर विरोध प्रदर्शन किया। वहीं भारतीय किसान यूनियन (BKU)के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि पंजाब सीमा पर हो रही घटनाओं और MSP पर कानून की मांग को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक बुलाई थी। खनौरी बॉर्डर पर एक किसान शहीद हुआ है। पुलिस ने फायरिंग की थी। इससे किसानों में आक्रोश है।

Join Channels

Share This Story

The Bombay Tribune Hindi

फॉलो करें हमारे सोशल मीडिया

Recent Post

वोट करें

[democracy id="1"]